सुशील मोदी की पहली 'भविष्यवाणी' सच, अब किया ये बड़ा दावा, सच हुआ तो बिहार में पलट जाएगा 'खेल'

Sushil Kumar Modi: सुशील कुमार मोदी ने ललन सिंह पर हमला करते हुए कहा कि जो लोग बिहार को बीजेपी से अलग होने के झूठे दावे कर रहे थे, पार्टी ने उन्हें ही अलग कर दिया।

सुशील मोदी की पहली 'भविष्यवाणी' सच, अब किया ये बड़ा दावा, सच हुआ तो बिहार में पलट जाएगा 'खेल'

पटना: अब बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने अपनी पहली भविष्यवाणी को सच कर दिया है। ललन सिंह ने शुक्रवार (29 दिसंबर) को दिल्ली में जेडीयू की बड़ी बैठक के बाद अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। यह भी कई दिनों से चर्चा में था। सुशील कुमार मोदी ने एबीपी न्यूज़ से एक निजी बातचीत में कहा कि ललन सिंह का इस्तीफा जेडीयू के ही लोगों ने बताया है। शुक्रवार को इसकी पुष्टि होते ही सुशील कुमार मोदी ने जो हाल ही का दावा किया है, वह बिहार में खेल को बदल सकता है।

सुशील कुमार मोदी ने कहा- 'जेडीयू का टूटना तय'

बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने शुक्रवार की शाम एक बयान जारी करते हुए कहा कि लालू प्रसाद से मिलकर जेडीयू को तोड़ने में लगे ललन सिंह को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाने की हमारी भविष्यवाणी सप्ताह भर के भीतर सच हुई, लेकिन यह सिर्फ शुरुआत है, अंत नहीं। वह एक और भविष्यवाणी करते हुए कहा कि JDU टूट जाएगा।

सुशील कुमार मोदी ने बीजेपी और मीडिया पर प्रश्न उठाने वालों को भी पीटा। उसने कहा कि जो लोग ललन सिंह के हटने को "मीडिया और बीजेपी का खेल" बता रहे थे, वे अब कुछ दिनों तक चुप रहेंगे। उन्होंने कहा कि जेडीयू कार्यालय में ललन सिंह को हटाए जाने पर कार्यकर्ताओं ने मिठाइयां बांटकर और पटाखे फोड़कर खुशी मनाई, जैसे कि उन्हें किसी बुरे आदमी से छुटकारा मिला हो।

सुशील मोदी ने कहा कि बिहार को बीजेपी को मुक्त करने के झूठे दावे करने वाले लोगों को पार्टी ने खुद मुक्त कर दिया। उनका कहना था कि JDU में दो समूह बन गए हैं। ललन सिंह ने बारह से अधिक विधायकों को लालू का समर्थन दिया है, एक खेमा लालू का समर्थक है। बीजेपी दूसरे गुट से सहमत है। ललन सिंह को समय रहते हटाया गया होता तो लालू प्रसाद के एजेंट के रूप में काम करते हुए जेडीयू को आरजेडी में विलय करा कर ही मानते होते। उन्हें लगता था कि ललन सिंह चुप नहीं बैठेंगे, इसलिए कुछ और गुल खिलाएंगे। जेडीयू को अब उनसे अधिक सावधान रहना चाहिए।